Stocks

Nykaa IPO Review: क्या मिलेगा मोटा मुनाफा?

महामारी के कारण हम सब की जीवन शैली में बहुत बड़ा  बदलाव आया है, खास करके हमारी खरीदारी की आदतों में बहुत बदलाव आया है । भारतीय ई-कॉमर्स मार्केट को लॉकडाउन का सबसे ज़्यादा फ़ायदा हुआ है। महामारी के दोरान लोगो को ऑनलाइन शॉपिंग करना आ गया। आपकी मम्मी या दादी  जिन्हे पहले व्हाट्सएप करने में भी परेशानी  आती थी, अब आसानी से अमेज़ॅन या नायका जैसे ऑनलाइन स्टोर से अपना  समान ऑर्डर कर लेती है।

जैसा की आप सब को मालूम होगा नायका आईपीओ 28 अक्टूबर को खुल रहा है तो आज हम इस आर्टिकल में FSN E-commerce Ventures, जिसे हम इसके ब्रांड नाम “नायका” से पहचानते हैं, के और उसके बिज़नेस के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे और समीक्षा करेंगे ताकि आप तय कर सके कि क्या इस आईपीओ में निवेश करना चाहिए।


कंपनी ब्रीफ

चलिये प्रारंभ करते हैं नायका के कंपनी प्रोफाइल के साथ – आखिर नायका करती क्या है?

हमें यकीन है कि आप में से जो महिला दर्शक हैं उनमें नायका के परिचय की जरूरत नहीं है। लेकिन जिन्हे कंपनी का परिचय नहीं हैं, आइए हम आपको नायका की पृष्ठभूमि और व्यावसायिक अवलोकन से रूबरू कराते।

नायका (Nykaa) 2012 में कंपनी के नाम FSM ई-कॉमर्स वेंचर्स के तहत हुई थी। हालाँकि उन्होंने एक मल्टी-ब्रांड ऑनलाइन ब्यूटी स्टोर के रूप में शुरुआत की, आज की तारीख में इनका काफ़ी विविध व्यवसाय आदर्श है जिसमे कंपनी ब्यूटी, पर्सनल केयर, हेल्थ सप्लीमेंट्स और फैशन उत्पाद अपने ऑनलाइन और ऑफलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से बिक्री करते हैं।

सरलता से कहा जाए तो नायका के दो कार्यक्षेत्र हैं: ब्यूटी और फैशन। इसने हाल ही में, इस साल जून में, होम फर्निशिंग स्पेस में भी प्रवेश किया है।

Nykaa IPO - Should you invest - Everything you need to know

और सबसे दिलचस्प बात? क्या कंपनी की संस्थापक एक महिला ही हैं – फाल्गुनी नायर। श्रीमती नायर, आईआईएम अहमदाबाद स्नातक हैं और नायका के पहले, कोटक के साथ 18 साल काम कर चुकी हैं. वास्तव में उन्होंने कोटक महिंद्रा इन्वेस्टमेंट बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर के रूप में 4 वर्षों से अधिक समय तक और कोटक सिक्योरिटीज में डायरेक्टर और इंस्टीटूशनल इक्विटी बिज़नेस के प्रमुख के रूप में 6 वर्षों तक कार्य किया था।

नायका में फिडेलिटी जैसी प्रसिद्द इन्वेस्टमेंट कम्पनिया इनवेस्टेड हैं, और कैटरीना कैफ और आलिया भट्ट जैसी हस्तियां भी नायका में निवेशक हैं।

हालांकि, अगस्त 2021 तक, पुरे इंडिया में नायका के 76 से भी ज्यादा भौतिक स्टोर करिब 40 शहरों में हैं, उनका प्रमुख व्यवसाय नायका के ऑनलाइन प्लेटफॉर्म से अपनी वेबसाइट और मोबाइल ऐप के माध्यम से हैं । नायका इन्वेंट्री-आधारित मॉडल पर काम करते हैं, मतलब वो जो उत्पाद बेचते हैं करते हैं, उसकी इन्वेंट्री उनके पास होती है और ऑर्डर आने पर वो खुद ग्राहकों को उत्पाद प्रेषण करते हैं।

ब्यूटी इंडस्ट्री में नायका आज की तारीख में सर्व श्रेष्ठ खिलाड़ी हैं। छात्राओं से लेकर, कामकाजी महिलाएं और गृहिणियां – सब नायका से खरीदारी करते हैं। क्यो नहीं, आखिरकार वे अपने डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से 2476 ब्रांडों के 1.97 लाख एसकेयू बेचते हैं। इसमे खास बात ये है कि नायका के प्लेटफॉर्म पर आपको किफायती से लेकर लग्जरी ब्रांड्स सब एक प्लेटफॉर्म पर मिल जाता है। इंडिया में इतनी बड़ी रेंज कोई दूसरा स्टोर ऑफर नहीं करता। वास्तव में, कुछ विश्व-प्रसिद्ध ब्यूटी ब्रांड्स इंडिया में आपको सिर्फ नायका के स्टोर्स पर ही मिलेंगे क्योकी उनका नायका से एक्सक्लूसिव टाई-अप हीं।

कंपनी दूसरे ब्रांड्स के साथ साथ अपने खुद के भी प्रोडक्ट्स ब्रांड नाम नायका नेचुरल्स, नायका कॉस्मेटिक्स, के ब्यूटी, एनवाईकेडी बाय नायका और पिपा बेला (जो नायका ने 2021 में अधिग्रहण करा हैं) के नाम से बेचती हैं।

अगर आप सोशल मीडिया में एक्टिव है तो आपको मालुम होगा की इंस्टाग्राम, यूट्यूब जैसे प्लेटफॉर्म के इन्फ्लुएंसर्स आज कल के सेलिब्रिटीज है। नायका के साथ 3000 से भी ज्यादा मशहूर हस्तियां और इन्फ्लुएंसर्स काम करते हैं, जिस्के माध्यम से नायका अपने ग्राहकों को कंटेंट आधारित लाइफस्टाइल रिटेल अनुभव प्रदान करता है। ये कंटेंट नायका कस्टमर्स को उनसे जोड़ कर रखता है और ब्रांड लॉयल्टी भी बड़ाता है। नायका ने अपने मजबूत मार्केटिंग रणनीतियों से अपने ब्रांड को बाजार में बहुत अच्छे से स्थापित करा है, जिस से आज उनकी पहुंच भारत के छोटे से छोटे शहर में भी हैं।

कुछ नंबरों की बात करते हैं:

  • हर महीने औसतन नायका की वेबसाइट पर 5.5 करोड़ लोग जाते हैं।
  • अगर हम मोबाइल ऐप की बात करे अगस्त 2021 में कंपनी के मोबाइल ऐप के 5.5 करोड़ संचयी डाउनलोड हैं।
  • नायका अपने ग्राहकों को अपने गोदामों के माध्यम से प्रतिदिन लगभग 1.3 करोड़ ऑर्डर वितरित करता है।
  • अगर हम ग्राहक के औसत ऑर्डर मूल्य की बात करें, तो फैशन और ब्यूटी सेगमेंट दोनों में नायका ग्राहक का एओवी हर साल बढ़ रहा है।
  • और सबसे खास बात, नायका ने वित्त वर्ष दो हज़ार इक्कीस में 2453 करोड़ रुपये के राजस्व पर 61.96 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ (नेट प्रॉफिट) कमाया।

नायका आईपीओ विवरण

नायका आईपीओ तारीख: 28 October – 1 November 2021

प्राइस बैंड: ₹1,085 to ₹1,125

इशू की साइज: ₹5,182-5,350 crore (Fresh Issue of Equity shares aggregating up to ₹630 crore and Offer for sale of 41,972,660 Equity shares)

इशू के बाद निहित बाजार पूंजीकरण: ₹51,335-₹53,204 crore

रिजर्वेशन: QIB 75%, Retail – 10%, NII 15%

कर्मचारी डिस्काउंट: ₹100 per share

बिड लोट: 12 शेयर, और 12 शेयरों के गुणकों में (multiples of 12)


नायका अपने आईपीओ के जरिए पैसा क्यों जुटा रही है और वो पैसा कहां जाएगा?

एक निवेशक के रूप में यह जानना बहुत जरूरी है कि नायका अपने आईपीओ के जरिए जुटाई गई सारी रकम का क्या करने जा रही है?

निर्गम मूल्य पर, नायका का आईपीओ आकार 5,352 करोड़ रुपये है, जिसमें से 630 करोड़ रुपये ताजा इक्विटी इश्यू है और शेष 4,722 करोड़ रुपये ऑफर-फॉर-सेल (ओएफएस) है।

Nykaa IPO Review - Should I invest in Nykaa

नहीं समझ में आया? सरल शब्दों में, जो 5,352 करोड़ रुपये नायका आईपीओ के माध्यम से जुटा रहा है, उसमे से कंपनी 630 करोड़ रुपये के नए शेयर इश्यू करेगी जो पैसा कंपनी में जाएगा। बाकी 4,722 करोड़ रुपये के 41,972,660 इक्विटी शेयर आप कंपनी के मौजूदा शेयरधारकों से खरीदोगे, जो सीधे उन शेयरहोल्डर के बैंक खाते में जाएंगे। OFS का मतलब यह है कि 4,722 करोड़ रुपए कंपनी में जाने के बजाय, सीधे शेयरहोल्डर को दिया जाएगा क्योंकि आप मौजूदा शेयरहोल्डर से सीधे नायका के शेयर खरीद रहे होंगे क्योंकि वे कंपनी से बाहर निकलना चाहते हैं।

कंपनी में जाने वाले 630 करोड़ रुपये का उपयोग नायका द्वारा निम्नलिखित तरीकों से किया जाएगा (इशू ओब्जेक्टिव्स):

  • नायका ने अपनी कुछ सब्सिडियरी कंपनियों, जैसे FSN ब्रांड्स और Nykaa Fashion, में नए गोदामों और रिटेल स्टोरों की स्थापना के लिए लगभग 42 करोड़ रुपये का निवेश करने की योजना बनाई है।
  • नायका ने कंपनी और उनकी एक सब्सिडियरी कंपनी – Nykaa E-Retail द्वारा लिए गए बकाया उधारों के पुनर्भुगतान या पूर्व भुगतान के लिए 156 करोड़ रुपये का उपयोग करने की योजना बनाई है।
  • नायका अपने विभिन्न ब्रांडों की दृश्यता और जागरूकता बढ़ाकर ग्राहकों को हासिल करने और बनाए रखने के लिए 234 करोड़ रुपये खर्च करेगी।
  • और बच्चा हुआ अमाउंट कंपनी के जनरल खरचे में जाएगा।

इंडिया का ब्यूटी, फैशन और पर्सनल केयर बाजार

  • 2019 में इंडिया के ब्यूटी और पर्सनल केयर मार्केट (जिस हम बीपीसी के नाम से आएंगे) का साइज 1.26 लाख करोड़ रुपये था, जो पिछले 3 साल से 13% सीएजीआर (CAGR) की दर से बढ़ रहा है, जो अभूतपूर्व है।
  • महामारी और लॉकडाउन के कारण, 2020 में ब्यूटी उद्योग में गिरावट देखी गई, लेकिन चीजें वापस सामान्य हो रही हैं और अब अनुमान है की बाजार 12% की सीएजीआर से बढ़कर 2025 में लगभग 2 लाख करोड़ तक पहुंचेगा।।
  • भारत में ऑनलाइन ब्यूटी और पर्सनल केयर बाजार पिछले 4 वर्षों में 60% सीएजीआर का वादा करके बढ़ा है, जो 2020 में भारत के सौंदर्य और व्यक्तिगत देखभाल बाजार का कुल 8% है।
  • 2016 में भारतीय फैशन बाजार का आकार 4.18 लाख करोड़ रुपये था। 2025 में बाजार की साइज बढ़कर 8.7 लाख करोड़ रुपए हो जाएगी ऐसा अपेक्षित है। इसमे परिधान का आकार 80% है और जूते और सहायक उपकरण का संयुक्त आकार करिब 20% है।

कंपनी की वित्तीय जानकारी

जहां तक कंपनी की आर्थिक स्थिति का सवाल है तो हमने पहले बताया था कि कंपनी फिलहाल मुनाफे में है।

Nykaa Financials - Should I invest in Nykaa IPO
Rs in crores

इसने वित्त वर्ष 2020-2021 में 2,453 रुपये के राजस्व पर 62 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया। हालांकि इससे पहले कंपनी पिछले दो साल से घाटे में चल रही थी। तथापि, यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि कंपनी का राजस्व लगातार बढ़ रहा था। यह वित्त वर्ष 2019 से 2020 तक 59% और 2020 से 2021 तक 38% बढ़ा।


वैल्यूएशन

चलिये अब हम उस बात पर आते हैं जिस्का आप शायद कब के इंतजार कर रहे हैं – प्राइस बैंड और क्या ये आईपीओ महंगा है या वाजिब वैल्यूएशन पर इसके शेयर उपलब्ध हैं?

नायका के शेयर 1,085-1,125 रुपये के प्राइस बैंड पर इश्यू होंगे। इस प्राइस बैंड पर कंपनी 52,574 करोड़ रुपये के वैल्यूएशन की मांग कर रही है। 1,125 रुपये के ऊपरी बैंड पर, यह इश्यू 21.8x (इश्यू के बाद) के एमकैप/बिक्री पर इसकी वित्त वर्ष 21 की 2,453 करोड़ रुपये की बिक्री के लिए पेश किया गया है।

सामान्य शब्दों में कहें तो कंपनी के मूल्यांकन और वित्तीय स्थिति को देखते हुए आईपीओ महंगा है।

हालांकि, हमें यह विचार करना होगा कि नायका जैसी कंपनियां विघटनकारी हैं। नायका ने एक ऐसा बाजार बनाया है जो पहले कभी अस्तित्व में नहीं था और अपने स्थान का नेतृत्व कर रहा है। ऐसी कंपनियां उच्च मूल्यांकन का आदेश देती हैं, उदाहरण के लिए ज़ोमैटो या टेस्ला।
आईपीओ महंगा है – निश्चित रूप से। लेकिन इसकी वृद्धि और अग्रणी स्थिति और भारत में बढ़ते सौंदर्य और फैशन बाजार को देखते हुए, अभी भी विकास के लिए बहुत जगह है।
इसलिए, हम सोचते हैं कि उच्च जोखिम वाले निवेशक जो अपने पोर्टफोलियो डायवर्सिफाय करना चाहते हैं और भारत के ई-कॉमर्स बाजार में निवेश करना चाहते हैं, वे Nykaa IPO में कुछ राशि का निवेश कर सकते हैं। लेकिन उन्हें दीर्घकालिक दृष्टिकोण रखने की आवश्यकता है।

जो हाई रिस्क इन्वेस्टर लिस्टिंग लाभ की तलाश में हैं, वे भी जोखिम उठा सकते हैं और Nykaa Ipo में निवेश कर सकते हैं।

हालांकि, हम कंपनी के वैल्यूएशन को देखते हुए उन निवेशकों के लिए इस आईपीओ की अनुशंसा नहीं करते हैं जो ज्यादा रिस्क लेने में विश्वास नहीं रखते।

Arihant Team
The Arihant Team believes everyone deserves access to sophisticated financial advice. From day one, our mission has been to help make investing easier and accessible to every Indian. Our team of experts are curating informative and research-based article on this blog, to help make investing and managing your money easier for you!

If you would like us to discuss a specific topic on our blog, please write to us at research@arihantcapital.com.
Arihant Team on FacebookArihant Team on InstagramArihant Team on LinkedinArihant Team on TwitterArihant Team on Youtube

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*
Website